चार्जिंग लगाते ही लुट जाएंगे आप, जानिए क्या है जूस अटैक

जब आप घर से बाहर हों और मोबाइल की बैटरी एकदम खत्म होने के करीब हो और अचानक पब्लिक प्लेस पर चार्जिंग पॉइंट दिख जाए तो लगता है कि सबकुछ मिल गया। सचमुच जब मोबाइल अबाउट टू डाइ हो तो लगता है कि जैसे सबकुछ खत्म होनेवाला है। वजह भी साफ है कि न सिर्फ लोगों से बात करने के लिए बल्कि हमारे मनोरंजन से लेकर तमाम जरूरतों के लिए मोबाइल महत्वपूर्ण माध्यम बन गया है। लेकिन क्या आपको पता है आप जैसे ही फोन में चार्जर की पिन लगाएंगे तो इस सुविधा के बदले में सबकुछ लुटा देंगे।
जी हां, ये डरावना जरूर है लेकिन पूरी तरह से सच है। सावधान हो जाइए कि कहीं गलती से आप भी इसका शिकार न हो जाएं। एयरपोर्ट, ट्रेन या होटल में अपना मोबाइल चार्ज करने से पहले आपको सावधानी बरतने की जरूरत है, क्योंकि आपका एक कदम आपके मोबाइल में मौजूद सारे डेटा को हैकर्स तक पहुंचाकर आपको मुसीबत में डाल सकता है।
देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने चार्जिंग स्टेशन पर फोन चार्जिंग को लेकर लोगों को आगाह किया है।

बैंक ने अपने ग्राहकों को सलाह देते हुए कहा है कि चार्जिंग स्टेशंस पर अपना फोन चार्ज करने से पहले वे दो बार सोचें, क्योंकि मैलवेयर उनके फोन को इन्फेक्ट कर सकता है और पलभर में उनका खाता खाली हो सकता है। क्योंकि आपके सारे डेटा और पासवर्ड तुरंत हैकर्स के पास पहुंच जाते हैं।
एसबीआई ने ट्वीट किया, ‘चार्जिंग स्टेशंस पर अपना फोन चार्ज करने से पहले दो बार सोचें। कोई मैलवेयर आपके फोन में घुसकर आपके तमाम डेटा और पासवर्ड को हैकर्स तक पहुंचाने का साधन बन सकता है।’
बैंक ने लोगों को सलाह दी है कि वे फ्री फोन चार्जिंग स्टेशन पर अपना फोन चार्ज नहीं करें, क्योंकि इससे उनके फोन में मैलवेयर घुस सकता है। बैंक ने चेतावनी देते हुए कहा है कि जूस हैकिंग की वजह से आपके खाते में पड़े सारे पैसे उड़ सकते हैं और आप कंगाल बन सकते हैं।।
क्या है जूस जैकिंग?
जूस जैकिंग एक तरह का साइबर अटैक है, जिसे चार्जिंग पोर्ट के जरिये अंजाम दिया जाता है। इस चार्जिंग पोर्ट को यूएसबी के जरिये डेटा कनेक्शन के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके जरिये फोन में मैलवेयर डालकर उसमें मौजूद सारे डेटा को कॉपी कर लिया जाता है।

जूस जैकिंग से बचने के लिए एसबीआई ने बताए उपाय-

1. चार्जिंग स्टेशन के पीछे इलेक्ट्रिकल सॉकेट पर गौर करें।
2. अपना चार्जिंग केबल अपने साथ रखें।
3. केवल इलेक्ट्रिकल आउटलेट से ही चार्ज करें।
4. आप किसी अच्छी कंपनी का पावर बैंक भी लेकर अपने साथ चल सकते हैं।

इसलिए, एसबीआई के टिप्स से ही अपने स्मार्टफोन के डेटा को सुरक्षित रखें, क्योंकि यह मैलवेयर आपके पेमेंट डेटा, क्रिडेंशियल्स और बैंक खातों से पैसों को चुरा सकता है।