दुबई के जेबेल अली में सिंधी गुरु दरबार मंदिर का शिलान्यास

दुबई के जेबेल अली इलाके में एक एक नया 25 हज़ार स्क्वायर फुट का एक मंदिर बनाया जा रहा है. ये मंदिर 2020 के मध्य तक तैयार हो जाएगा. यह मंदिर बर दुबई के सूक बानियान में सिंधी गुरु दरबार मंदिर का विस्तार होगा, सिंधी गुरु दरबार मंदिर के ट्रस्टियों में से एक व्यापारी राजू श्रॉफ ने इसकी घोषणा की.
इस नए मंदिर का निर्माण जेबेल अली में गुरु नानक दरबार के बगल में किया जाएगा, जो दुबई में इलाके का एक बहु-धार्मिक गलियारा बन चुका है. श्रॉफ बताते हैं कि “एक बार पूरा होने के बाद यहाँ कई चर्च, सिख गुरु नानक दरबार और उसी स्थान पर हिंदू मंदिर होंगे.” ये नया मंदिर अबू धाबी में BAPS हिंदू मंदिर के साथ-साथ बनाया जा रहा है, जिसके 2022 में पूरा होने की उम्मीद है.
सिंधी गुरु दरबार मंदिर के बोर्ड के सदस्यों ने पिछले दिनों मंदिर शिलान्यास समारोह में भाग लिया. यह इमारत दो मंजिला संरचना होगी, इसमें दो तहखाने फर्श और बहुत सारी पार्किंग होगी. इस मंदिर की डिज़ाइन उस कम्पनी ने तैयार की है, जो अब तक 200 मंदिरों की डिज़ाइन तैयार कर चुकी है.
ख़लीज टाइम्स के अनुसार मंदिर के निर्माण के लिए दुबई के सामुदायिक विकास प्राधिकरण ने सभी अनुमतियाँ पहले ही दे दी हैं. श्रॉफ के अनुसार, “वर्तमान में, हम दुबई नगर पालिका से अनुमोदन प्राप्त करने की प्रक्रिया में हैं ताकि हम आधिकारिक तौर पर मार्च में निर्माण शुरू कर सकें.” सिंधी गुरु दरबार के लिए भूमि दुबई सरकार द्वारा समुदाय को उपहार में दी गई थी. यहाँ पर शादियाँ, सामुदायिक सेवा के कार्यक्रम व अन्य समारोह होते है.
श्रॉफ के अनुसार, “वर्तमान संरचना लगभग 100 वर्ष पुरानी है और हम बर दुबई में मंदिर के लिए आगंतुकों की बढ़ती आबादी के साथ कई चुनौतियों का सामना कर रहे हैं. पार्किंग निश्चित रूप से एक और चुनौती है. बर दुबई के अल फहीदी के पास का हिंदू मंदिर 1958 में स्वर्गीय शेख राशिद बिन सईद अल मकतौम द्वारा दी गई जमीन के एक टुकड़े पर बनाया गया था.